Agriculture Budget 2021; वित्तमंत्री ने किसानो तथा MSP को लेकर क्या बजट पेश किया हैं 2021 के बजट में

0
63
Agriculture Budget 2021
Credit JagRuk Hindustan

Agriculture Budget 2021;वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण आज संसद में बजट पेश कर रही हैं। जिसमें आज किसानो के लिए बजट पेश किया गया हैं। जिसमें किसानो को मिलने वाले मुवाअजो को बढ़ाने तथा एमएसपी पर भी बात की हैं।

विस्तार-

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने आज संसद में  Budget 2021 पेश किया हैं। जिसमें उन्होने बताया कि मोदी सरकार 2014 से लेकरअबतक किसानो के हित के लिए काम कर रही हैं। निर्मला सीतारमण ने कहा कि अब तक 40 मिलियन से अधिक किसानो , महिलाओ तथा गरीबो के लिए नकद राशि मुहैया करवा चुकी हैं।

उन्होने बताया कि मोदी सरकार 2022 तक किसानो के की आय को दोगुना करने का लक्ष्य बना रही हैं। तथा 2013-14 में गेहूँ की सरकारी खरीद पर सरकार द्वारा 33 हजार करोड़ रूपये खर्च किया गया था। इसके साथ ही 2019 में सरकार ने 63 हजार करोड़ रूपये की खरीदारी की जो बढ़ कर 75 हजार करोड़ रूपये हो गयी हैं। तथा 2020-21 में एमएसपी योजना के तहत 43 लाख तक किसानो की फसल खरीद की जा चुकी हैं।

धान खरीद योजना पर क्या कहा-

धान खरीदारी के बारे में वित्तमंत्री ने कहा कि 2013-14 में 63 हजार करोड़ रूपये खर्च हुए हैं। और जो बढ़कर 1 लाख 45 हजार करोड़ रूपये तक हो चुके हैं। तथा इस साल तक ये आकड़ा 1 लाख 72 हजार करोड़ रूपये तक पहुँच सकता हैं। उन्होने बताया कि सरकार द्वारा धान खरीद योजना के तहत पिछले वर्ष लगभग 1.2 करोड़ किसानो का मुनाफा हुआ हैं। यह आकड़ा इस साल ये बढ़कर 1.5 करोड़ हो गया हैं।

दाल की खरीदारी पर ब्यौरा-

Agriculture Budget 2021 पर वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा हैं कि दाल की खरीरदारी पर वर्ष 2014 में 236 करोड़ रूपये खर्च हुे थे जो इस वर्ष बढ़कर 10 हजार 500 करोड़ रूपये तक  हो गया हैं।

MSP को लेकर कही ये बात-

Agriculture Budget 2021 वित्तमंत्री निर्मलासीतारमण ने इस बार किसानो के हित की बात करते हुए एमएसी पर भी बात की हैं। इसके साथ ही उन्होने कहा कि एमएसपी को बढ़ाकार उत्पादन लागत को बढ़ा दिया हैं। और कहा कि जिन फसलो के नुकसान होने पर किसानो को मुआवजा दिया जाता था। साथ  ही उन फसलो की भी संख्या हो गयी हैं।

Stay Connected With our Website to get updates about such important updates ऐसी ही खबरे और देश व विदेश से जुड़ी जानकारी पाने के लिए हमारे साइट जागरूक हिन्दुस्तान से जुड़े तथा हमारे फेसबुक और ट्वीटर अंकाउड को फालो करके हमारे नये आर्टिकल्स की नोटिफिकेशन पाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here