बलिया कांड पर योगीआदित्यनाथ ने सख्त रूख अपनाते हुए पुलिसकर्मियों को किया निलबित और आरोपी ने किया स्वंय सरेंडर

0
75
बलिया गोली कांड
Credit JagRuk Hindustan

बलिया गोलीकांड में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगीआदित्य नाथ ने सख्त रूख अपनाते हुए उस समय जितने भी पुलिसकर्मी वहाँ पर मौजूद थे जब गोली चली थी। उन सभी पुलिसकर्मियों को निलम्बित कर दिया हैं। इस कांड के मुख्य आरोपी धीरेन्द्र प्रताप सिंह ने सरेंडर एप्लीकेशन कोर्ट में दे दिया हैं। और उसके भाई  देवेंद्र प्रताप सिंह और नरेन्द्र प्रताप सिंह को पहले ही पुलिस गिरफ्तार कर चुकी  है।

विस्तार-

बलियागोली कांड पर उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगीआदित्यनाथ ने इस घटना पर सख्त रूख अपनाते हुए जब ये घटना हुई थी। उस समय वहाँ पर जितने भी पुलिसकर्मी मौजूद थे उन सबको निलम्बित कर दिया हैं। और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करने को कहा हैं।

बलियागोलीकांड में यूपी की सियासत घमासान हो गयी हैं क्योकि हत्या का आरोपी सरेआम वारदात से फरार हो गया था। और पुलिस ने उसे गिरफ्तार तक नहीं किया। आपको बता दे कि धीरेन्द्र प्रताप  सिंह का बीजेपी के विधायक से सुरेन्द्र सिंह का करीबी बताया जा रहा हैं। और अब जहाँ धीरेन्द्र सिहं के भाईयों के गिरफ्तार होने के बाद उसने वीडियों जारी की हैें, तथा कोर्ट में सरेंडर एप्लीकेशन भी जमा कर दिया हैं। 

कौन हैं, धीरेन्द्र प्रताप सिंह-

बलियागोलीकांड का मुख्य आरोपी धीरेन्द्र सिंह बीजेपी के फ्रंटल संगठन सैनिक कल्याण प्रकोष्ठ से उसका संबंध बताया जा  रहा हैं।और बताया जा रहा हैं, कि धीरेन्द्र सिंह बिया के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह के समर्थन में बलिया में खूब प्रचार-प्रसार भी किया था। और लोकसभा चुनाव में बीजेपी के समर्थक का कार्य किया था।

धीरेन्द्र सिंह सेना में आर्मी बैंकग्राउंड हवलदार भी रह चुका हैं और अपने पद से रिटायर होकर गाँव में रहता हैं।

क्या कहा बैरया विधायक सुरेन्द्र सिंह ने-

बलिया गोली कांडपर बैरया विधायक सुरेन्द्र सिंह ने कहा हैं, कि दुर्जनपुर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण हैं और प्रशासन की एक तरफा कार्यवाही सही नहीं हैं। इस घटना में 6 महिलाये चोटिल हो गयी और एक व्यक्ति रेफर हो चुका हैं, यह किसी को नहीं दिख रहा हैं। धीरेन्द्र सिंह ने अपनी आत्मरक्षा में गोली चलाई हैं, यदि वो गोली ना चलाता तो उसके परिवार के साथ दर्जनो लोग मारे जाते।

क्या कहा धीरेन्द्र सिंह ने वीडियो में-

बलिया गोली कांड का मुख्य आरोपी धीरेन्द्र प्रताप सिंह ने सोशल मीडिया पर एक वीडियों जारी करते हुए कहा  हैं, कि मैने कोटे की दुकान आंवटन के लिए बैंठक आयोजित की थी।मैने वहाँ पर मौजूद अधिकारियो से आशंका जताते हुए कहा कि यहाँ पर बवाल होने की संभावना हैं, लेकिन अधिकारियों ने मेरी बात नही मानी मेरे 80 वर्षीय पिता और भाभी पर भी हमला हुआ हैं,हमलावर के पास लाठी-डंडे और असलहा मौजूद थे।

धीरेन्द्र सिहं ने कहा कि जयप्रकाश की हत्या किसकी गोली से हुई हैं, नहीं पता हैं, उसने प्रशासन का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराना चाहा और पुलिस कार्यवाही नहीं कर रही हैं। योगीआदित्यनाथ को उचित जाँच करनी चाहिए इस मामले कि वह अपने घर की चोटिल महिलाओ को हास्पिटल लेकर पहुचाँ और वहां इस घटना पर बात करते हुए रोने लगा तथा कहा यदि पुलिस दूसरी पक्ष के खिलाफ केस दर्ज नही करेगी तो वह सत्याग्रह करेगा।

उत्तरप्रदेश और देश व विदेश की खबरो की जानकारी पाने के लिए हमारे साइट जागरूक हिन्दुस्तान से जुड़े तथा हमारे फेसबुक और ट्वीटर अंकाउड को फालो करके हमारे नये आर्टिकल्स की नोटिफिकेशन पाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here