Bihar Breaking News; बक्सर जिले का एक ऐसा गाँव जहाँ खुदाई करने पर मिलता हैं, सोना

Date:

Bihar Breaking News; बिहार के बक्सर जिले का एक गाँव इस समय बना सुर्खियों का हिस्सा क्योकि वहाँ पर खेत में खुदाई करते समय मिला 5 किलो बेलनाकार पत्थर का सोना 

बक्सर में कहाँ मिला सोना-

सोने के सिक्के निकलने के बाद बक्सर का गिरधर बरांव गांव चर्चा में हैं। आपको बता दे कि इससे पहले 20 मार्च को जिस जमीन में एक महिला को सोने के तीन प्राचीन सिक्के मिले थे। अब उसे वहां खुदाई के दौरान कुछ ऐसी चीजें मिली हैं।

जिसने वहाँ पर रहने वाले लोगों की उत्सुकता को और बढ़ा दिया है। यहां पुरातत्व विभाग ने 15 स्क्वायर मीटर के दायरे में खुदाई कराई। जहां 5 किलो का बेलनाकार का पत्थर और कुछ कंकड़ मिले। पुरातत्व विभाग के अधिकारी इसे महत्वपूर्ण साक्ष्य मानते हुए अपने साथ ले गए हैं। और खेत पर अब भी पुलिस का पहरा है। तीनों सिक्कों को भी पुलिस से हैंडओवर ले लिया है। 

इससे पहले भी मिला सोना-

 इस खेत में करीब 10 साल पहले भी 5 किलो ग्राम का बिल्कुल ऐसा ही एक और पत्थर मिल चुका है। ग्रामीणों के अनुसार, खेत में काम करने के दौरान सुमेरु पाल को यह पत्थर मिला था, जिसे वह अनाज तौलने के लिए बाट के रूप में प्रयोग करता था। सुमेरु पाल ने बताया कि इसी खेत में काम करने के दौरान कुदाल से मिट्टी हटाने पर बेलन आकर का पत्थर मिला था।

बताया जा रहा हैं, कि यह पत्थर सिंधु सभ्यता कालीन है। इधर, क्षेत्रीय लोगों में यहां के प्राचीन इतिहास को जानने को लेकर उत्सुकता बढ़ गई है।

ऐसा कहा जा रहा हैं, कि केसठ में प्राचीन काल में चेरो खरवारों का काफी समृद्ध साम्राज्य था। सोने के सिक्के मिलने के बाद लोग इसे चेरो खरवारो के काल से भी जोड़ कर देख रहे। सिक्कों को इस वंश के चर्चित केशवा राज कालीन बताया जा रहा था। लेकिन अब सैंधव सभ्यता कालीन पत्थर मिलने से यहां की संस्कृति चेरो खरवार के शासन से भी बहुत प्राचीन माना जा रहा हैं। 

देश-विदेश से जुड़ी जानकारी पाने के लिए हमारे साइट जागरूक हिन्दुस्तान से जुड़े तथा हमारे फेसबुक  और  ट्वीटर अंकाउड  को फालो करके हमारे नये आर्टिकल्स की नोटिफिकेशन पाये। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related