इंडिया और चीन की लड़ाई का चीन की इकनॉमी पर प्रभाव

1
246

इंडिया और चीन की लड़ाई की खबरे इन दिनो सुर्खियों में बनी हुई है। सभी को ये बात पता है, कि इंडिया और चीन के बीच की ये लड़ाई आज की नहीं है, काफी पुरानी लड़ाई है, इंडिया और चीन के बीच हर बार समझौता हो जाता है लेकिन चीन समझौता करने के बाद भी हर बार भारत के पीठ पर छुरा घोपने का कार्य करता है।

अभी हालहि में हुई इंडिया और चीन के बीच गलवान घाटी में  युद्ध की वजह से इंडिया के 20 जवान वीर गति को प्राप्त हो गये।

इंडिया और चीन के युद्ध की वजह से इडिया में चीन के समानो का boycott  करने की माँग ने तेजी ले ली है, जिसकी वजह से चीन की कम्पनियों को काफी नुकसान झेलना पड़ सकता है, जिसका असर चीन की अर्थव्यवस्था पर भी देखने को मिल सकता है।

इंडिया और चीन की लड़ाई में चीन को भारत के अपने हिस्से पर सड़क बनाने पर तकलीफ है। विशेषज्ञो का मानना है, कि इंडिया ने गलवान घाटी पर सड़क बना लिया तो आगे अगर कभी भी इंडिया और चीन के बीच युद्ध हुआ तो इंडिया चीन को परास्त कर सकता है।

इंडिया और चीन की लड़ाई का चीन की इकनॉमी पर प्रभाव -

इंडिया और चीन के बीच अगर लड़ाई हुई और इंडिया ने चीन के समानो के आयात पर रोक लगा दी तो, चीन के अर्थव्यवस्था पर काफी प्रभाव पड़ेगा और चीन को भारी नुकसान भी झेलना पड़ सकता है, क्योकि विशेषज्ञो का मानना है, कि चीन की काफी अर्थव्यवस्था इंडिया पर टीकी है। चीन भारत को काफी चीजे आयात करता है।

इंडिया और चीन के बीच पिछले 5 सालो में चीन के investors  ने 5.5 billions से ज्यादा का invest किया है। जैसे कि अलीबाबा और पबजी जैसे बड़ी कम्पनियो के investors शामिल है। अगर हम बात करे FDI (foreign direct investment) तो इंडिया में चीन की रैकिंग 18वें नंम्बर पर है, लेकिन कुछ सालो में चीन ने भारत के कई कम्पनियों के start up पर पैसा लगाया है। जैसे- अलीबाबा ने Paytm और   Zomato पर invest किया है ऐसी ही चीन के और investors ने Ola, Swiggy  और BYJU’S पर invest किया है। इंडिया में 29 में से 16 ऐसे start up जिनकी लागत 1 billion dollar से ज्यादा है, उसमें से कम से कम एक में चीनी investors का पैसा लगा हुआ है।

इंडिया की ​कम्पनियॉ जिसमें सबसे ज्यादा चीनी investor का पैसा लगा हुआ है -

भारत में बहुत से ऐसी बड़ी कम्पनिया है, जिसमें चीनी investors का पैसा लगा हुआ है। आकड़ो की माने तो इंडिया और चीन के बीच अगर लड़ाई हुई तो चीन के काफी investors का पैसा इंडिया के बड़ी कम्पनियों के start up में लगा हुआ है। इंडिया की वो कम्पनिया जिसमें चीनी investors का पैसा लगा हुआ है जैसे- bigbasket, BY​JU’S, Flipkart, Dream11, Ola, make my trip, Quikr, Snapdeal, Hike और भी बहुत सी ऐसी कम्पनियॉ है, जिसमें चाइनिज investor  का पैसा लगा हुआ है।

इंडिया में कितने चीनी एप्पस इस्तेमाल होते है -

इंडिया और चीन की बात की जाये तो इंडिया में चीन के काफी ऐसे एप्पस ने अपना कब्जा बना रखा है, जिससे ये कहा जा सकता है कि हर एक इंडियन के मोबाइल में कोई ना कोईऐसा एप्प मिल ही जायेगा जो चाइनाीज हो।

   इस समय इंडिया में चीन का सबसे पॉपुलर एप्प जिसका नाम टिकटॉक है, इंडिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। इंडिया में एक मोबाइल से दूसरे मोबाइल में कोई भी डेटा शेयर करने के लिए सबसे ज्यादा SHAREit का इस्तेमाल किया जाता है जो कि एक चाइनीज एप्प है।

ऐसे ही इंडिया में इस समय गेम खेलने के लिए जिस एप्प सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है, वो है PUBG जो एक चाईनीज एप्प है। जिसका Developer Tencent है।

 ऐसे ही इंडिया में कुल 52 चाइनीज एप्पस है-

Tik Tok

Share it

We chat

UC browser

Uc news

Helo

Vigo video

Vault hide

Beauty plus

Xender

Club Factory

Like

Kway

Romwe

Shein

News Dog

Photo Wonder

Bigo live

Weibo

Apus Browser

Viva video

Perfect Corp

Cm browser

Virus Cleaner

Mi community

DU recorder

You Cam make up

Mi store

360 security

DU battery saver

DU browser

DU cleaner

DU privacy

Clean master

Cache clear DU app studio

Baidu Translate

Baidu Map

Wonder Camera

ES file explorer

QQ international

QQ Launcher

QQ security centre

QQ Player

QQ music

QQ mail

QQ news feed

We sync

Selfie City

Clash of King

Mail Master

Mi video call, Xiaomi

Parallel space

इंडिया और चीन के बीच स्मार्ट फोन का व्यापार -

इंडिया और चीन के बीच स्मार्ट फोन की बात करे तो भारत में सबसे ज्यादा स्मार्ट फोन चाइना के ही मिलेगे। आकड़ो की माने तो भारत में 70 प्रतिशत स्मार्ट फोन चाइना के ही है। भारत में 70 प्रतिशत स्मार्ट फोन का व्यापार चाइना से ही होता है। हम ये कह सकते है कि अगर इंडिया में 1000 स्मार्ट फोन की बिक्री होती है, तो उसमें से 700 स्मार्ट फोन चीन का ही होगा। जिसमें 300 स्मार्ट फोन SUMSUNG, APPLE जैसी कम्पनियों के होगें।

चाीन की वे प्रमुख कम्पनिया जिन्होने भारत के इलेक्ट्रानिक्स तथा स्मार्ट फोन जगत में अपना आधिपत्य स्थापित कर रखा है।

​MI, VIVO, OPPO, ONEPLUSE, Realme, Tecno Mobile, Xiaomi, Lenovo( Motorola), Meizu, Coolpad, Zopo Mobilem Huaweim Gionee​

 आकड़ो की माने तो इंडिया और चीन के बीच केवल गैजेस्ट जैसे- मोबाइल और अन्य इस प्रकार 70 प्रतिशत व्यापार भारत से होता है। इंडिया और चीन के बीच 47 प्रतिशत व्यापार इलेक्ट्रानिक जैसे- टी.वी को होता है तथा 12 प्रतिशत व्यापार फ्रिज, कुलर आदि का होता है।

इंडिया और चीन की लड़ाई को देखकर इंडियन सरकार द्वारा उठाये गये कदम -

इंडिया और चीन के बीच हो रही लड़ाई को देखते हुए है। इंडियन गर्वमेंट ने भी BSNL में लगने वाले चाईनीज equipment पर रोक लगा दिया है तथा इसके साथ ही CAIT ( Confederation of all India traders) ने भी चाइना से आने वाली वस्तुओं पर रोक लगाने की माँग की है। जिससे अनुमानतः चाइना को 1 लाख करोड़ का आयात कम हो जायेगा। तथा CAIT ने बॉलीवुड एक्टर व एक्टर्स को भी किसी चाइनीज कम्पनी के प्रोडक्टस का प्रचार-प्रसार करने के लिए मना किया है।

क्या है इंडिया और चीन की लड़ाई की वजह -

​इंडिया और चीन के बीच यूद्ध काफी लम्बे समय से होते आ रहे है। 90 के दशक में भारत के तत्कालिक रक्षा मंत्री रहे जार्ज फनान्डिस ने एक समझौता किया था। जिसमें इंडिया और चीन के तरफ से कुल 61 जगह सड़के बनाने का समझौता किया गया। जिसमें इंडिया और चीन के बीच सड़क निर्माण का कार्य BRO (Border Road Organisation)  को मिल गया और BRO ने 75 प्रतिशत कार्य भी पूरा कर लिया। लेकिन जैसे ही BRO ने गलवान घाटी पर दौलत बेग ओल्डी तक सड़क  निर्माण का कार्य शुरू किया। जो कि भारत का ही हिस्सा है, तब से ही चीन को आपत्ति होने लगी, क्योकि अगर भारत इस सड़क का निर्माण कर लेता तो, इंडिया के जवानो को आने-जाने में सुविधा हो जाती। जिसकी वजह से अगर भविष्य में कभी इंडिया और चीन की लड़ाई होती है तो चीन को इंडिया युद्ध में परास्त कर देता, इसी डर की वजह से चीन गलवान घाटी से दौलत बेग ओल्डी तक बनने वाली सड़क का विरोध कर रहा है।

​इंडिया और चीन के युद्ध में जहाँ सेना बार्डर पर डट कर चीन का सामना कर रही है, वही हम चीन से आने वाली चीजों तथा उनके मोबाईल एप्पस का बहिष्कार कर आर्थिक रूप से अपने देश की मद्द कर सकते है।

ऐसे ही देश दुनिया तथा मनोरंजन जगत से जुड़ी खबरो की जानकारी के लिए हमारे साथ आईये और फालो कीजिए हमारे  फेसबुक   पेज को और जुड़े रहिये हमारे जागरूक हिंदुस्तान साइट से।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here