Jagannath Rath Yatra 2022 Date; जानिये क्यो होती हैं, हर साल जगन्नाथ यात्रा, इसके पीछे क्या धार्मिक महत्व

Date:

Jagannath Rath Yatra story/ Jagannath Rath Yatra 2022 Date/ Jagannath Rath Yatra 2022/ Jagannath Rath Yatra Date 2022 /जानिये जगन्नाथ रथ यात्रा क्यो हर साल मनाई जाती हैं। और क्या हैं इसके पीछे की वजह व धार्मिक महत्व

Jagannath Rath Yatra Date 2022-

1 July 2022 से शुरू होगा और इसका समापन 12 July 2022 को होगा। 

Jagannath Rath Yatra story in hindi- 

'जगन्नाथ रथ यात्रा' धूमधाम से हर साल निकाली जाती है। जगन्नाथ मंदिर ओडिशा के पुरी शहर में स्थित है। ये रथ यात्रा वैष्णव मंदिर श्रीहरि के पूर्ण अवतार श्रीकृष्ण को समर्पित है। पूरे साल इनकी पूजा मंदिर के गर्भगृह में होती रहती हैं। आषाढ़ माह में तीन-तीन किलोमीटर की अलौकिक रथ यात्रा के दौरान इन्हें गुंडिचा मंदिर लाया जाता है। हर साल इसमें देश के कोने-कोने से लोग आते हैं।  

जगन्नाथ रथ यात्रा महत्व- 

हिंदू धर्म के अनुसार, आषाढ़ के शुक्ल पक्ष की द्वितीय तिथि को भगवान जगन्नाथ, भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा अपनी मौसी के घर जाते हैं। ये रथ यात्रा पुरी के जगन्नाथ मंदिर से तीन दिव्य रथों पर निकाली जाती हैं।जिसमें सबसे आगे बलभद्र का रथ, उनके पीछे बहन सुभद्रा तथा सबसे पीछे भगवान जगन्नाथ का रथ होता है।

क्यो होती हैं,जगन्नाथ रथ यात्रा-

ऐसा कहा जाता हैं कि भगवान जगन्नाथ अपनी बहन सुभद्रा को जब नगर दिखाने निकले थे। तब वो अपनी मौसी के घर 7 दिनो के लिए गुंडिचा भी गये थे। और वहाँ 7 दिनो तक रूके थे। तभी से जगन्नाथ रथ यात्रा होती हैं। इसके पीछे और भी बहुत-सी कहानियाँ प्रसिद्ध हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related