यदि आप भी चीजो को बहुत जल्दी भूल रहे हैं, तो हो जाये सर्तक बरते ये सावधानियाँ

0
141
जल्दी भूल
Credit JagRuk Hindustan

रोजमर्रा की जिंदगी में बहुत-सी ऐसी चीजे हैं, तो हम ध्यान नहीं देते हैं, आगे जाकर यही चीजे हमारे सेहत के लिए खतरा बन जाती हैं। उसी में से भूलने वाली आदत हैं, इंसान चीजो को बहुत जल्दी भूल जाता हैं।  और इस बात को ऐसे ही जाने देता हैं, जबकि ये सब आदतें अच्छी नहीं हैं। आगे जाकर ये सब चीजे हमारी परेशानियाँ ही बढ़ाती हैं। इसलिए समय रहते ही हमें सर्तक हो जाना चाहिए और कुछ सावधानियों का ख्याल रखना चाहिए। चलिए हम आपको बताते हैं, यदि आप भी चीजो को बहुत जल्दी भूल रहे हैं, तो आपको किन-किन सावधानियों का ख्याल रखना चाहिए। यदि आप भी चीजो को बहुत जल्दी भूल रहे हैं तो हो जाये सर्तक बरते ये सावधानियाँ

किन-किन सावधानियों का रखे ख्याल-

यदि आपको भी ये परेशानियाँ हैं, तो आपको अपनी नींद से समझौता ना करे। अपनी नींद पूरी करे युवाओं को कम से कम नौ घंटे तक सोना चाहिए। तथा वयस्कों को कम से कम सात से आठ घंटे तक सोना चाहिए। और तनाव बिल्कुल भी नहीं लेना चाहिए। जितना हो सके खुद को तनाव से दूर रखना चाहिए। 

सुबह उठकर टहलना चाहिए, साइकिल चलाना चाहिए, स्वीमिंग करनी चाहिए, योगा करना चाहिए तथा इसके साथ ही साथ ध्यान, प्राणायाम और जितना हो सके उतना शारीरिक व्यायाम करना चाहिए। जितना हो सके उतना सीढ़ियों का प्रयोग करना चाहिए। जो भी चीजे करे उसकी टाइमिंग पहले ही तैयार कर ले हर एक चीज टाइम पर करना चाहिए। 

एक साथ कई चीजे ना करे, अगर आप एक साथ कई चीजे करेगे तो आप कोई ना कोई चीज भूल जायेगे। जो भी चीजे करे उसमें एकाग्रता का ध्यान रखे।ज्यादा मोबाइल या इलेक्ट्रानिक गैजेटस्ट का इस्तेमाल ना करे। जितना हो सके इन सब चीजों से दूरी बनाये रखे।

जितना हो सके नकारात्मक चीजो से दूर रहे अपने मन में नकारात्म विचार ना लाये हमेशा पॉजीटिव सोचे और फालतू के विचार दिमाग में ना लाये। हमेशा खुशमिजाज रहे। 

यदि आप चीजे जल्दी भूल रे तो हो सकती हैं ये बीमारियाँ-

यदि आप चीजे बहुत जल्दी भूलने लगे हैं, तो आपको हो सकती हैं, ये बीमारियाँ आप सबसे पहले थॉयराइड का चेक-अप कराये और इसके साथ ही साथ डॉक्टर से सलाह ले कही आपको सिफलिस या एड्स के लक्षण तो नहीँ हैं। ये विटामीन बी-1 और विटामीन बी-12 की कमी हो सकती हैं। 

क्या खाये और क्या करे-

यदि आपकी भी यादश्त कमजोर हैं, तो आप दिमाग से संबन्धी गेम खेले , सोचे विचार करे, शतरंज जैसे गेम भी अपनी दिनचर्या में शामिल कर सकते हैं। संगीत का भी आप सहारा ले सकते हैं, प्राकृतिक जगहो पर जहाँ ज्यादा हरियाली हो वहाँ घूमने जाये।

आपको ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए क्योकि दिमाग का 85 प्रतिशत हिस्सा तरल होता हैं। थोड़े-थोड़े समय पर कुछ ना कुछ खाये, जो भी खाये भले ही कम खाले लेकिन पौष्टिक आहार खाये। फास्ट-फूड खाने से बचे आप अपने खाने में दाल, अंकुरित चना, अंडा, मछली और बादाम भी शामिल कर सकते हैं।

ऐसी ही स्वास्थ्य संबंधी और देश व विदेश की खबरो की जानकारी पाने के लिए हमारे साइट जागरूक हिन्दुस्तान से जुड़े तथा हमारे फेसबुक और ट्वीटर अंकाउड को फालो करके हमारे नये आर्टिकल्स की नोटिफिकेशन पाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here