कुशीनगर में कोरोना मरीजों की नयी व्यवस्था गंभीर बीमारी होने पर ही अस्पतालों में भर्ती होगे मरीज

0
कुशीनगर कोरोना मरीजों व्यवस्था
Credit JagRuk Hindustan

कुशीनगर में कोरोना मरीजों की संख्या दिन-प्रति बढ़ती जा रही हैं। जिसको नजर में रखते हुए कुशीनगर सीएमओ डॉ एनपी गुप्त जी द्वारा बताया गया कि अब कुशीनगर में मरीजो का इलाज बीमारी की गंभीरता को देखते हुए होगा। उनके अनुसार जिन मरीजों की जैसी कोरोना रिपोर्ट आयेगी। उनका उस प्रकार इलाज होगा। यदि मरीज पहले से ही किसी बीमारी से ग्रसित है। तो उनके लिए अलग-अलग वार्ड की व्यवस्था की गयी हैं। कुशीनगर में कोरोना मरीजों की नयी व्यवस्था आइये जानते है इससे जुड़े नए अपडेट्स।

क्या कहना हैं, कुशीनगर सीएओ का-

कुशीनगर में कोरोना मरीजो की संख्या रोज बढ़ती जा रही हैं। जिसकी वजह से काफी लोगो को दिक्कतो का सामना करना पड़ता हैं। जिसको देखते हुए यहाँ के  मुख्य चिकित्सा अधिकारी जी ने बताया हैं, कि हमने पहले ही कुशीनगर के लोगो को ये सूचना दे दी थी कि उन्हें कोरोना सम्बंधी जाँच के लिए अब जिला अस्पतालों के चक्कर नहीं काटने पड़ेगे। अब सभी ब्लाक पर सीएचसी तथा पीएचसी की व्यवस्था की गयी हैं। जिसमें कोरोना की जाँच होगी तथा इसके साथ ही साथ जितने भी ब्लाक हैं, उन सबके मुख्यालयों पर कंट्रोल कक्ष की स्थापना कर दी गयी हैं।

उन्होने ये भी बताया कि ये सब व्यवस्था प्रशासन के निर्देशानुसार किया गया हैं। तथा कुशीनगर के समकक्ष लक्ष्मीपुर के अस्पताल में कोरोना मरीजो का इलाज भी शुरू कर दिया गया हैं। इसके साथ ही साथ इस बात का पूरा ख्याल रखा जा रहा  हैं, कि मरीजो को किसी भी प्रकार की तकलीफो का सामना ना करना पड़े।

कैसे कि जायेगी जाँच व इलाज-

    कुशीनगर में मरीजो की जाँच व इलाज के लिए अलग-अलग वार्डो तथा स्वास्थकर्मियो की भी व्यवस्था की गयी हैं।

  1. सीएचसी सेवरही क्षेत्र में दो जगहों पर 170 बेड की व्यवस्था।
  2. सीएची सपहां में 30 बेड की व्यवस्था।
  3. सेंथ्रेंस स्कूल में 470 बेड की व्यवस्था।
  4. इसके साथ ही जिन मरीजो में कोविड-19 के ये लक्षण हैं, जैसे- बुखार, खांसी, गले में खराश व सांस फूलना उनके लिए अलग-अलग वार्ड बनाये गये हैं।

  5. कोविड-19 एल-वन समकक्ष अस्पताल राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय लक्ष्मीपुर में 250 बेड की व्यवस्था की गयी हैं, तथा साथ ही साथ आइसोलेशन वार्ड की भी व्यवस्था की गयी जिसमें बिना लक्षण वाले मरीजो का भी इलाज होगा।
  6. जिन लोगो को कोविड के साथ गंभीर बीमारी जैसे हृद्य रोग, शुगर आदि रोग हैं, उन्हें कोविड-19 एल-टू में जिला मुख्यालय पर स्थित जिला सयुक्त चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में इलाज होगा। जहाँ पर कुल 100 बेड की व्यवस्था की गयी हैं।
  7. कोविड-19 एल-ए समकक्ष राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय हेतिमपुर में 200 बेड की व्यवस्था की गयी हैं।

जिन मरीजो को गंभीर रूप से कोरोना हैं-

जो मरीज गंभीर रूप से कोरोना की बीमारी से ग्रसित हैं, उनको गोरखपुर स्थित मेडिकल कालेज में भेजा जायेगा। यहाँ पर उनके लिए खाने से लेकर सारी व्यवस्था की जायेगी तथा मरीजों का देखभाल नर्सो,  वार्ड बॉय तथा डॉक्टरो  द्वारा किया जायेगा।  जिसके लिए यहां पर 6 डाक्टर सहित 26 स्वास्थ्य कर्मियों को नियुक्त किया गया हैं।

कोरोना मरीजो को किसी भी प्रकार की परेशानी हैं शिकायत दर्ज-

अगर कोरोना मरीजो को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं, या अस्पताल प्रशासन द्वारा उनका सही से देखभाल नहीं हो रहा हैं,तो वो इस नंबर पर शिकायत कर सकते हैं-

नम्बर - 05564-240228, 9984943395 9044943395


इन नंबरो पर कॉल करके मरीज कभी भी कोई भी अस्पताल सम्बन्धी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। ये नंबर सीएओ कार्यालय में स्थित कंट्रोल रूम का हैं।

कुशीनगर से जुड़े हर खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट जागरूक हिंदुस्तान से जुड़े। आप हमारे फेसबुक और ट्विटर पेज को फॉलो कर हमारे नए आर्टिकल्स की अपडेट्स पा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here