डब्लूएच ने कोविड-19 को लेकर ने जारी किये नए दिशा निर्देश

0
310
कोविड-19 नए दिशा निर्देश
Credit JagRuk Hindustan

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) ने एक बयान जारी किया हैं, जिसके अनुसार कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए उन लोगो की भी जाँच होनी चाहिए। जिनमें कोरोना वायरस का कोई लक्षण नहीं हैं। जिससें हम कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सकता हैं। साथ ही कोविड-19 नए दिशा निर्देश भी जारी किये।

क्या कहा डब्लूएचओ ने-

कोरोना वायरस का संक्रमण जिस तरह से दिन-प्रतिदिन फैलता जा रहा हैं। तथा उस वायरस को लेकर नये-नये लक्षण सामने आ रहे हैं, तथा कई व्यक्ति ऐसे भी हैं, जिनके अन्दर कोरोना वायरस के लक्षण नहीं हैं, फिर भी वो कोरोना से ग्रसित हैं। जो दूसरो में संक्रमण को फैला सकते हैं। इसलिए डब्लूएचओ ने कहा हैं,कि संक्रमण को कम करने के लिए उन लोगो की भी जाँच करानी चाहिए। जिन लोगो में कोरोना का लक्षण नहीं हैं।

डब्लूएचओ के प्रौद्योगिक प्रमुख मारिया वान केरखोवे ने कहा हैं, कि कोरोना को लेकर सरकार को जाँच करने का दायरा बढ़ाना चाहिए। तथा उन लोगो की भी जाँच भी करानी चाहिए। जिनको हल्का बुखार हो या कोई भी लक्षण नहीं हो। उन्होने आगे ये भी कहा कि संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए यह बहुत ही जरूरी प्रक्रिया हैं, इससे संक्रमण को रोका जा सकता  हैं। जाँच करने से लोगो के सम्पर्क में आये लोगो का भी पता लगाया जा सकता हैं।

उन्होने कहा कि लोगो में अब दिन-प्रतिदिन कोरोना वायरस को लेकर सावधाँनिया नहीं रख रहे हैं। लोग मास्क का भी सही से इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं तथा जो लोग मास्क लगा रहे हैं, वो लोग सोशल डिस्टेंन्सिग का पालन नहीं कर रहे हैं। उनका कहना है, कि मास्क लगाने के बाद भी लोगो को कम से कम एक मीटर की दूरी बनाए रखना जरूरी हैं।

क्यो कहा डब्लूएचओ ने ऐसा-

हालहि में अमेरिका ने अपने नीति में बदलाव किया हैं, तथा अमेरिका की स्वास्थ्य एजेंसियों ने कहा हैं, कि जिन व्यक्तिओ की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटीव आयी हैं। उनके सम्पर्क में आये उन लोगो की जाँच नहीँ करायी जायेगी जिन लोगो में कोरोना के लक्षण नहीं हैं। इसी के चलते WHO ने कोविड-19 नए दिशा निर्देश जारी किये है।

क्या बदलाव किया अमेरिका ने अपनी नीति-

पहले अमरिका के रोक नियंत्रण तथा रोकथाम केन्द्र की नीति के अनुसार उन लोगो की जाँच की जा रही थी। जो लोग कोरोना से संक्रमित व्यक्ति से 1.8 मीटर दूरी पर रहे हो या 15 मिनट से अधिक समय तक उन लोगो के सम्पर्क में रहे हैं। उनकी कोविड-19 की जाँच की जाती थी। लेकिन अब अमेरिका ने अपनी नीतियों में बदलाव करते हुए कहा हैं,कि अब उन लोगो की जाँच नहीँ होगी जो लोग कोरोना से संक्रमित व्यक्ति के सम्पर्क में आये हैं लेकिन उनके अन्दर कोई भी कोरोना के लक्षण नहीं हैं।

कोरोना पर हर नयी खबर और देश दुनिया की हर खबर जाने हमारी साइट जागरूक हिंदुस्तान से जुड़े और इस तरह की महत्वपूर्ण खबरों से अपडेटेड रहे। आप हमे फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो कर हमारे नए आर्टिकल्स की नोटिफिकेशन्स पा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here