Saturday, January 28, 2023
Delhi
haze
11.1 ° C
11.1 °
11.1 °
71 %
2.1kmh
0 %
Fri
11 °
Sat
22 °
Sun
17 °
Mon
24 °
Tue
23 °

निकिता हत्याकांड फरीदाबाद में दिन दहाड़े हुए हत्याकांड से खौफ का माहौल धर्म परिवर्तन करने की कोशिश

दिल्ली से 63 किलोमीटर दूर फरीदाबाद हरियाणा में एक युवती की दिन दहाड़े हत्या। परिजनों का कहना है की धर्म परिवर्तन को लेकर की गयी है हत्या। परीक्षा देकर वापस लौटते समय मारी गोली। सोशल मीडिया पर दिखा गुस्सा लव जिहाद का मामला बताया जा रहा है। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया हैं। निकिता हत्याकांड फरीदाबाद

क्या हैं, पूरा मामला-

फरीदाबाद में निकिता नाम की एक लड़की जो कि बीकॉम लास्ट ईयर की छात्र थी दिन दहाड़े गोली मारकर उसकी हत्या कर दी। निकिता जो की बीकॉम लास्ट ईयर का एग्जाम देकर घर आ रही थी। रास्ते में ही उसकी दो युवको जिसका नाम तौसीफ व रेहान नाम के दोनो युवक जो कि लड़की को उठाकर ले जाना चाहते थे। जब लड़की ने उस चीज का विरोध किया तो उन हैवानो ने उसे गोली मार दिया।

निकिता के साथ उसकी एक दोस्त भी थी जिसने उन हैवानो का विरोध किया। जब लड़की ने विरोध किया तो उन हैवाने को जरा सा भी डर नहीं लगा। लड़की को उन हैवानो ने पिस्तल दिखा कर डराने लगे इसके बाद भी निकिता उन हैवानो का विरोध कर रही थी। जिसके बाद उन हैवानो ने निकिता को गोली मार दी। ये मामला लव-जेहाद का बताया जा रहा हैं।

लड़की को वो लड़के 2018 से ही परेशान कर रहे हैं, उन हैवानो का लगातार वो लड़की विरोध कर रही हैं, लेकिन आज उन हैवाने ने हैवानियत की सारी हदे पार कर दी और जब निकिता एग्जाम देकर आ रही थी। उसके साथ जबरदस्ती करने लगे जब निकिता ने विरोध किया तो उन हैवानो ने उसे जान से मार दिया।

परिजनो में आक्रोश-

निकिता के परिजन सड़क पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं, और उन हैवानो के एंकाउटर की माँग कर रहे हैं। जिन हैवाने ने उनसे उनकी बेटी व बहन को छीन लिया। क्योकि उसने उनका प्रस्ताव स्वीकार नहीं किया।  निकिता के परिजनो का कहना है, कि जबतक उन आरोपियो  को सजा नहीं मिलेगी तब तक वो लोग दाह-संस्कार नहीे करेगे। परिवार वालो का आरोप हैं, कि आरोपी निकिता पर लगातार धर्म परिवर्तन का दबाव बना रहे थे। और वो उनको इस बात को मानने से इंकार कर रही थी। 

परिजनो ने ये भी कहा हैं, कि 2018 में भी घरवालो ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट लिखाने पुलिस स्टेशन गयी थी। लेकिन पुलिस ने उनकी बात ना मानी जिसकी वजह से आज उन्होने अपनी बेटी खो दी। उनका कहना हैं, कि हमारी लड़की या तो हमें वापस करो या आरोपियों का एंकाउटर करो।

कब तक ऐसा ही देश में बेटियो के साथ होता रहेगा कबतक ऐसे ही मनचलो की जबरदस्ती चलेगी। कहाँ हैं वो लोग जो हाथरस और बाकी मामलो पर ट्वीटर पर ट्वीट्स की लाइन लगा देते हैं। आज क्यो सब चुपी साधे हुए हैं, कब तक ऐसे ही निकिता जैसी लड़कियाँ इन हैवानो के हैवानियतत का शिकार होती रहेगी। शायद पुलिस ने पहले ही इन के खिलाफ कार्यवाही कर दी होती तो आज ऐसा ना होता। 

ऐसी ही खबरे और देश व विदेश  से जुड़ी जानकारी पाने के लिए हमारे साइट जागरूक हिन्दुस्तान से जुड़े तथा हमारे फेसबुक और ट्वीटर अंकाउड को फालो करके हमारे नये आर्टिकल्स की नोटिफिकेशन पाये। निकिता हत्याकांड फरीदाबाद

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

3,650FansLike
8,596FollowersFollow

Latest Articles