Pitru Paksha 2022: पितृपक्ष में भूलकर भी ना करे ये गलती नहीं तो नाराज हो सकते हैं आपके पूर्वज

Date:

Pitru Paksha 2022/ Pitru Paksha 2022 Date/ Pitru Paksha Niyam/ पितृ पक्ष हर साल भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा से शुरू होता है जो 15 दिनों तक चलता है. माना जाता है कि पितृपक्ष में पूर्वज कौवे रूप में धरती पर आते़ हैं। ऐसे में भूलकर भी आपको ये काम नहीं करना चाहिए। 

Pitru Paksha 2022 Date-

इस साल पितृ पक्ष 10 सिंतबर को शुरू होकर 25 सितंबर को समाप्त हो जाएगा। ये पूरे 15 दिन तक रहता हैं। 

पितृपक्ष नियम (Pitru Paksha Niyam)-

ऐसी मान्यता हैं कि विधि पूर्वक पितरों का श्राद्ध करने से उनकी आत्मा को शांति मिलती है। पितृपक्ष में पूर्वजों की आत्मा की शांति के लिए पिंडदान, श्राद्ध और तर्पण किए जाते हैं. इससे प्रसन्न होकर पूर्वज अपने वंशजों को सुख-समृद्धि का आशीर्वाद देते हैं। पितृपक्ष के दौरान भूलकर भी इन कार्यो को नहीं करना चाहिए। 

पितृपक्ष के दौरान क्या नहीं करना चाहिए-

  • पितृपक्ष में किसी भी तरह का मांगलिक कार्य नहीं करनी चाहिए। क्योकि इन दिनो शाकाकुल का माहौल बना रहता हैं। 
  • पितृपक्ष में श्राद्धकर्म करने वाले व्यक्ति को पूरे 15 दिनों तक बाल और नाखून नहीं कटवाने चाहिए।
  •  लोगों को ब्रह्माचार्य का पालन भी करना चाहिए।
  • पितृपक्ष के दौरान पूर्वज पक्षी के रूप में धरती पर आते हैं। इसलिए उन्हें सताना नहीं चाहिए। ऐसा करने से पूर्वज नाराज हो जाते हैं बल्कि पितृपक्ष में पशु-पक्षियों की सेवा करनी चाहिए। 
  • पितृपक्ष के दौरान पूरे 15 दिनों तक घर में सात्विक माहौल होना चाहिए। इन दिनों प्याज, लहसुन व मांसाहारी नहीं खाना चाहिए। 
  • इन दिनों लौकी, खीरा, चना, जीरा और सरसों का साग भी नहीं खाना चाहिए। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related