दिल्ली राहुल राजपूत केस: लड़के को मुस्लिम युवती से दोस्ती होने के चक्कर में अपनी जान गवानी पड़ी

0
राहुल राजपूत केस
Credit JagRuk Hindustan

राहुल राजपूत केस नई दिल्ली में 18 साल के लड़के राहुल राजपूत को उसकी प्रेमिका के घरवालों ने इस कदर पीटा की उसकी जान चली गयी। जिसकी वजह से वो लड़की अब अपने घर तक जाने से डर रही हैं, और जिन लोगो ने राहुल की जान ली है,उसके खिलाफ बयान तक देने को तैयार हो गयी हैं।  

राहुल राजपूत केस विस्तार-

ये मामला दिल्ली के आदर्श नगर का  हैं, 18 साल का लड़का जिसका नाम राहुल राजपूत हैं, उसकी हत्या सिर्फ इसलिए कर दी गयी क्योकि वो जिस लड़की से प्रेम करता था। वो अलग धर्म की थी, आपको बताते कि राहुल के पिता एक टैक्सी ड्राइवर  हैं।उन्होने बताया कि जब ये सब हुआ तो वो अपने घर में नहीं थे। 

सीसीटीवी कैमरे में देखा गया कि राहुल जिस लड़की से प्रेम करता था। वो उसके घर के बाहर खड़ी थी, जिसके बाद राहुल उस लड़की के पीछे-पीछे चला गया। तथा उस फुटेज में यह भी देखा गया हैं, कि आरोपी उन दोनो को दूसरी गली में ले गया हैं। और लड़की के घरवालो ने राहुल को लड़की के सामने इस कदर पीटा की उसे अपनी जान गवा देनी पड़ी। ये सब हादसा लड़की के सामने ही हुआ लड़की देखती रही, जिसके बाद लड़की इतना डर गयी हैं, कि वो गवाही तक देने को तैयार हो गयी और अपने घर भी नहीं जा रही हैं, पुलिस ने उस लड़की को सुरक्षा भी दी हैं, और उस लड़की को अज्ञात शेल्टर होम में शिफ्ट भी किया हैं।

क्या कहा राहुल के परिजनो ने-

राहुल के पिता का कहना हैं, कि वो एक टैक्सी ड्राइवर हैं, और उन्हेे इन सब बातो के बारे में नहीं पता था, जब वो क्लीनिक से राहुल को घर लेकर आये तो उसने उन्हे कुछ भी नहीं बताया कि उसकी पिटाई हुई हैं, या कुछ भी उन्होने कहा हमें लगा छोटी मोटी चोट लगी हैं। और राहुल रातभर लेटा रहा और जब अचानक से उसकी तबीयत खराब हो  गयी जिसके बाद उसको अस्पताल ले गया जहाँ उसने दम तोड़ दिया।

उन्होने ने आगे  कहा कि मैं यह चाहता हूँ कि उनके लड़के साथ जिसने भी ऐसा किया हैं, उनको कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए. जो मेंरे लड़के के साथ हुआ हैं, वो दुबारा अब किसी के लड़के के साथ ना हो। उनके पिता ने कहा कि जब उनके लड़के को वो लोग इतनी बेरहमी से मार रहे थे। तो वहाँ पर काफी भीड़ इक्ट्ठा थी, लेकिन उनके लड़को को किसी ने भी नहीं बचाने की कोशिश की।

क्या कहा  पुलिस ने-

पुलिस ने बताया कि उनके परिजनो द्वारा लिखे गये रिपोर्ट उसके मुताबिक राहुल और लड़की में प्रेम संबध था। लड़की के परिवार को इस बात से दिक्कत थी, एफआईआर में लिखवाया गया हैं, कि राहुल के परिवार को इस बात की खबर दो महीने पहले ही हुई थी। इसकी रिपोर्ट राहुल के चाचा धर्मपाल ने लिखवायी हैं, धर्मपाल ही वो शख्स हैं, जिनको इस बात की खबर मिली थी, कि राहुल को कुछ लोग मार रहे हैं, जिसके  बाद वो उस जगह पर पहुचे उन्होने ने कहा कि मैने देखा कि लड़की के परिवार के कुछ लड़के राहुल को पीट रहे थे।  मैने उनमें से एक लड़के से पूछा किबात क्या हैं, उन्होने कहा कि वे उसे उनकी बहन से बात करने के लिए सबक सिखाना चाहते थे। उन्होने उन लड़को को वहाँ से भेज दिया और राहुल को क्लीनिक लेकर आये।

कैसे हुई राहुल की मौत-

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार राहुल की मौत लात-घुस्से से मारने की वजह से उसकी तिल्ली फटने की वजह से हुई  हैं। राहुल के परिवार का कहना  हैं, कि जो कुछ भी उनके लड़के के साथ हुआ हैं, वो किसी और के लड़के के साथ ना हो। और आरोपियों को सजा मिलनी चाहिए।

राहुल राजपूत केस व ऐसी ही देश-विदेश से जुड़ी खबरो के अपडेट पाने के लिए हमारे साइट जागरूक हिन्दुस्तान से जुड़े तथा हमारे फेसबुक और ट्वीटर अंकाउड को फालो करके हमारे नये आर्टिकल्स की नोटिफिकेशन पाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here