Tuesday, February 7, 2023
Delhi
fog
14.1 ° C
14.1 °
14.1 °
94 %
4.1kmh
0 %
Tue
26 °
Wed
25 °
Thu
28 °
Fri
29 °
Sat
28 °

UP Diwas 2023: उत्तर प्रदेश की स्थापना कब और किसने की थी, जानिए इसका पूरा इतिहास

Uttar Pradesh foundation day 2023/ उत्तर प्रदेश जिसको भगवान राम से लेकर श्रीकृष्ण तक ने अपने  कमलो से इसे पावन व पवित्र बनाया हैं।  यहाँ की पावन भूमि में भगवान के द्वारा की गई कई सारी लिलाऐं आज भी इसका इतिहास बया करती हैं। तो वहीं काशी में स्वंय तीनो लोक के मालिक महादेव जी स्वंय विराजमान हैं। यहाँ त्रीवेणी का अद्भुत संगम यही पर स्थापित हैं। जहाँ पर तीन पावन नदिया गंगा, यमुना व सरस्वती का प्रवाह हैं। तो वहीं देश के स्वतंत्रता संग्राम में अपने प्राणो का न्यौछावर करने वाले योद्धाओं की भी जन्मस्थली रही हैं। उत्तर प्रदेश में दुनिया का आश्चर्य कहा जाने वाला ताजमहल भी स्थापित हैं। आज उसी उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस हैं। जानिए आज उत्तर प्रदेश की स्थापना कब व किसने की

Uttar Pradesh foundation day 2023-

उत्तर प्रदेश का इतिहास (Uttar Pradesh History)-

उत्तर प्रदेश आज के ही दिन यानि 24 जनवरी 1950 को भारत के गवर्नर जनरल ने यूनाइडेट प्रोविंस आदेश 1950 पारित किया। जिसके बाद इसका नाम यूनाइडेट प्रोविंस (Uttar Pradesh Old Name) से इसका नाम उत्तर प्रदेश पड़ गया। 

1834 तक बंगाल का रहा शासन-

इतिहास कि माने तो राज्य 1834 में भारत में बने तीन सूबे बंगाल, बम्बई व मद्रास में से बंगाल के आधीन था। इसके बाद जब चौथे सूबे की आवश्यकता हुई तो आगरा बनाया गया। 

1902 में इसका नाम यूनाइडेट प्रोविंस ऑफ एंड अवध पड़ा-

लार्ड कैनिंन 1885 में प्रयागराज आ बसा और उत्तरी पश्चिमी सूबे का गठन किया। इस तरह से शासन की शक्ति आगरा से प्रयागराज स्थांतरित हो गई। 1868 में उच्च न्यायालय आगरा से प्रयागराज आ गया। 1856 में अवध को मुख्य आयुक्त के आधीन किया गया। इसके बाद जनपदों का विलय उत्तरी-पश्चिमी सूबे में किया गया। 1877 में उत्तरी-पश्चिमी सूबा तथा अवध के नाम से जाना जाने लगा। जिसके बाद 1902 में इसका नाम यूनाइडेट प्रोविंस ऑफ एंड अवध पड़ गया। 

यूपी की राजधानी लखनऊ कब बनी-

1920 में विधानसभा परिषद के प्रथम चुनाव के बाद 1921 में परिषद का गठन हुआ। गवर्नर, मंत्री व सचिव लखनऊ में ही रहते थे। उस समय के गवर्नर सर हारकोर्ट बटलर ने अपना मुख्यालय प्रयागराज से लखनऊ में स्थापित कर लिया। 1935 में सम्पूर्ण कार्यालय लखनऊ आ गया था। जो अब उत्तर प्रदेश की राजधानी बन चुका था। 

स्थापना दिवस की शुरूआत यूपी ने की-

24 जनवरी 1989 से उत्तर प्रदेश दिवस मनाने की शुरूआत की हैं। इसके बाद महाराष्ट्र निवासी राम नाईक के राज्यपाल बनने के बाद इन लोगो ने यूपी में स्थापना दिवस के आयोजन का प्रस्ताव दिया था। अखिलेश यादव के सरकार के समय इसे मंजूरी नहीं मिली।लेकिन जैसे ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बने इसे स्वीकृति मिल गई। 2018 में पहली बार स्थापना दिवस की शुरूआत हुई। 

2000 में उत्तराखंड अलग हो गया यूपी से-

उत्तराखंड 9 नवंबर 2000 को यूपी से अलग होकर एक नया राज्य बन गया। पहाड़ी गढ़वाल व कुमाऊं जोड़कर इसका नाम उत्तराचंल किया गया। फिर इसका नाम उत्तराखंड पड़ा था। 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

3,650FansLike
8,596FollowersFollow

Latest Articles