उत्तरप्रदेश सरकारी नौकिरियों को लेकर योगी सरकार का फैसला जल्द होंगे रिक्त पदों पर एग्जाम

Date:

उत्तरप्रदेश सरकारी नौकरी बेरोजगारो द्वारा लागातार प्रदर्शन करने पर योगी सरकार ने शुक्रवार इस मामले में बैठक की और अधिकारियों से रिक्त पदो का ब्यौरा लिया तथा उत्तरप्रदेश जल्द से खाली पदो पर भर्तियाँ कराने के आदेश दिये। 

विस्तार-

बेरोजगारो द्वारा लगातार ट्वीटर पर हैशटैग तथा थाली-ताली, कैन्डल मार्च आदि चीजे की जा रही हैं। तथा कल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के बर्थडे दिवस को बेरोजगारी दिवस के रूप में कल युवाओ द्वारा मनाया गया हैं। तथा सड़को पर उतरकर युवाओ ने बेरोजगारी के खिलाफ और सरकारी नौकरी में खाली पदो पर रिक्तियों को लेकर हड़ताल किया हैं।

सपा कार्यकर्ताओ द्वारा मुख्यमंत्री आवास के बाहर सरकारी नौकरी के लिए चूड़ियाँ लेकर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन का माहौल हर जगह देखने को मिला। जिसके बाद उत्तर-प्रदेश के मुख्यमंत्री जी ने अपने आवास पर आज अधिकारियों की बैठक बुलाकर सभी खाली पदो की रिक्तियां 6 महीने के अंदर कराने की बात कही हैं।

क्या आदेश दिया हैं, मुख्यमंत्री ने-

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने आवास पर शुक्रवार को हर विभाग के अधिकारियों को बुलाकर बैठक की हैं, तथा अधिकारियों से सभी खाली पदो को लेकर 21 सितम्बर तक ब्यौरा देने को कहा हैं। उन्होने यह भी निर्देश दिया हैं, कि अभी तक जिस तरह पारदर्शी तरीके से भर्तियाँ हुई हैं, उसी तरह उत्तरप्रदेश में तीन महीनो के अन्दर सारी भर्तियाँ शुरू हो तथा इसी तरह अगले छह महीनो के अंदर सभी नियुक्ति पत्र भी बाट दिये जाये।

क्यो लिया मुख्यमंत्री योगीआदित्यनाथ जी ने फैसला-

छात्रो द्वारा लगातार सरकारी नौकरियों में परीक्षाओ, रिजल्ट तथा नियुक्ति पत्र को लेकर विरोध किया जा रहा था। लेकिन कल प्रधानमंत्री जी के जन्मदिन पर ट्वीटर पर बेरोजगारी दिवस लगातार ट्रेड करते हुए नजर आया तथा छात्रो द्वारा लखनऊ तथा मुख्यमंत्री आवास और उत्तर-प्रदेश कोने-कोने में हड़ताल किये गये। जिसके कारण छात्रो तथा पुलिस के बीच काफी छड़प भी देखने को मिली। इसी बीच सपा के छात्र संघ ने भी मुख्यमंत्री आवास के आगे चूड़ियाँ लेकर प्रदर्शन किया। जिसके बाद पुलिस और महिलाओ के बीच काफी झड़प भी देखने को मिली।

तथा वहीं लखनऊ विश्वविद्यालय के गेट पर भी सपा के छात्र संघ द्वारा कटोरा लेकर भीख  माँगा कर प्रर्दशन किया गया। तथा पुलिस को इस बात की खबर मिलते ही, वह वहाँ पहुँच कर उन लोगो को हिरासत में ले ली। छात्रो का कहना हैं, कि सरकार जिन वादो को लेकर आयी थी। उन वादो को निभाने में सफल नहीं हैं। उत्तरप्रदेश में कितने सालो से भर्तिया रूकी हुई हैं। जिन छात्रो का रिजल्द आ गया हैं, उनकी नियुक्ति अभी तक नहीं की गयी हैं। तथा बहुत से ऐसे एग्जाम हैं, जिनकी परीक्षाये हो गयी  हैं, लेकिन अभी तक रिजल्ट नहीं आये हैं।

इस तरह की हर जानकारी से जुड़े रहने के लिए हमारी साइट जागरूक हिंदुस्तान  से जुड़े। आप हमारी  फेसबुक  और  ट्विटर पेज  से जुड़कर हमारे हर एक आर्टिकल की नोटिफिकेशन्स भी पा सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related