UttraKhand; उत्तराखंड में ग्लेशियर टूटने की वजह से भारी तबाही 100 से ज्यादा लोगो की जान जाने की आंशका पीएम मोदी ने प्रार्थना करने की अपील की

0
54
Uttarakhand Glaciar
Credit JagRuk Hindustan
Uttarakhand Glaciar;उत्तराखंड के जोशीमठ से लगभग 25 किलोमीटर दूर पर आज सुबर ऋषिगंगा सुरंग के पास ग्लैशियर टूटने की वजह से 100 से ज्यादा लोगो की जान जाने की आंशका जताई जा रही हैं। अभी तक केवल 3 लोगो के शव ही बरामद हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगो के सुरक्षित रहने के लिए सबसे प्रार्थना करने की अपील की हैं।

विस्तार-

आज सुबह 10 बजे के करीब Uttarakhand के चमोली रेणआ के पास प्राकृतिक आपदा की वजह से वहाँ के कई सारे इलाको में पानी भर गया। ये आपदा Uttarakhand में Glaciar टूटने की वजह से हुई हैं। जिसकी वजह से कई सारे पास के घरो को नुकसान पहुँचा हैं तथा 100-150 लोगो की जान जाने की आशंका जताई जा रही हैं। वही पास में रेशीगंगा की एक सुंरग में कार्य करने वाले 50 लोगो की भी जान जाने की आशंका जताई जा रही हैं।

ऋषिगंगा व तपोवन प्रोजेक्ट को भी काफी नुकसान पहुँचा हैं। तथा उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया हैं तथा उत्तराखंड से सटे यूपी के इलाको में एलर्ट जारी कर दिया गया हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी व गृहमंत्री अमित शाह ने भी मामले की पूरी जानकारी उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद रावत  से ली और वहाँ के अधिकारियों से बात की तथा घटना की गंभीरता को देखते हुए एयरफोर्स को स्टैंडबाई रखा गया हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देशवासियों से लोगो की सलामती की प्रार्थना करने की अपील की हैं।जिसके बाद ट्वीटर पर सारे लोगो ने आपदा में फसे लोगो की सुरक्षित रहने की प्रार्थना कर रहे हैं।

हेल्पलाइन नंबर-

Uttarakhand सरकार द्वारा Glaciar टूटने की वजह से लोगो की जान-माल की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया हैं। जो कि 1070 और 9557444486 हैं। सीएम त्रिवेंद सिंह रावत के अनुसार बाढ़ में फसे लोग सहायता के लिए इन नंबरो पर संपर्क कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here