WHO ने कहा मास्क का ज्यादा प्रयोग हो सकता है हानिकारक, जारी की कोरोना की नई गाइडलाइन्स

0
चाइना के टिक बोर्न वायरस
Credit JagRuk Hindustan

कोरोना की दिन-प्रतिदिन बढ़ते मामलो की वजह से वर्ल्ड हेल्थ आर्गनाइजेशन (WHO) ने कोरोना जैसी महामारी से बचने के लिए नई गाइडलाइन्स जारी की हैं। ताकि कोरोना की वजह से लोगो की हो रही मृत्यु-दर में कमी आये। और लोग खुद को सुरक्षित रख सके।

​फेस मास्क से सम्बन्धित जानकारी -

​मास्क का प्रयोग ज्यादा देर तक नहीं करना चाहिए, सीमित समय तक ही इसका प्रयोग करना चाहिए, अगर आप इसका ज्यादा प्रयोग करते हैं तो आपको करना पड़ सकता हैं, इन मुश्किलों का सामना। कोरोना की नई गाइडलाइन्स

  1. रक्त में आक्सीजन की कमी आ सकती हैं।
  2. आपके मस्तिष्क को भी आक्सीजन कम मिलता हैं।
  3. आपको कमजोरी महसूस होने लगेगी।
  4. मास्क का ज्यादा प्रयोग आपको मृत्यु की स्थिति तक ले जा सकता हैं।

​कब मास्क प्रयोग करे और कब नहीं -

  1. जब आप घर पर अकेले हो तो इसे प्रयोग ना करे।
  2. कोरोना के कोई सिन्टम्स ना होने पर घऱ पर इसका इस्तेमाल ना करे।
  3. इसका प्रयोग केवल भीड़-भाड़ वाली जगहो पर तथा जब आप एक से अधिक लोगो के सम्पर्क में आये तभी करे।
  4. A.C का इस्तेमाल जितना हो सके उतना कम करे।

 दवाएं जो कोरोना मरीज को आइसोलेशन अस्पतालों में दी जाती हैं -

  1. विटामिन-सी- 1000
  2. विटामिन-ई
  3. 15-20 मिनट तक धूप में बैठना चाहिए।
  4. कम से कम 7-8 घण्टे की नीद पूरी करनी चाहिए।
  5. रोजाना 2.5 लीटर पानी पीना चाहिए।
  6. ठण्डा खाना खाने से बचना चाहिए, गर्म खाना खाना चाहिए।

ये सब हॉस्पिटल में प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए किया जाता हैंआपको पता होना चाहिए, कि कोरोनावायरस का पीएच 5.5 से 8.5 तक भिन्न होता हैं।

​हमें कोरोना वायरस से बचाव के लिए बस इससे ज्यादा अम्लीय और अधिक क्षारीय खाद्य पदार्थो का इस्तेमाल करना चाहिए -

WHO ने जारी की कोरोना की नई गाइलाइन्स

Immunity Booster JagRuk Hindustan

  • हरा नींबू- 9.9 पीएच
  • पीला नींबू- 8.2 पीएच
  • एवोकैडो- 15.6 पीएच
  • लहसुन- 13.2 पीएच
  • आम-  8.7 पीएच
  • कीनू- 8.5 पीएच
  • अनानास- 12.7 पीएच
  • वॉटरक्रेस- 22.7 पीएच
  • संतरे- 9.2 पीएच

​कोरोनावायरस के लक्षण -

  1. गला
  2. सूखा गला
  3. सूखी खांसी
  4. उच्च तापमान
  5. सांस की तकलीफ
  6. गंध सही तरीके से नहीं आती

गर्म पानी के साथ नींबू पीने से, वायरस फेफड़ो तक पहुचने से पहले ही खत्म होता जाता हैं।

​बीमारियों को पहचाने -

  1. सूखी खाँसी + छींक = वायु-प्रदुषण
  2. खाँसी + बलगम + छींक + बहती नाक = साधारण जुकाम
  3. खाँसी + बलगम + छींक + बहती नाक + शरीर दर्द + कमजोरी + हल्का बुखार = फ्लयू
  4. सूखी खाँसी + छींक + शरीर दर्द + कमजोरी + तेज बुखार + साँस लेने में तकलीफ =  कोरोनावायरस के लक्षण हैं

अगर आपको कोरोना वायरस के कोई भी लक्षण दिखायी दे तो तुरन्त डॉक्टर को सम्पर्क करे।

जैसा की हम सब जानते है की पूरा विश्व इस महामारी से लड़ रहा है। हर देश इस वायरस की वैक्सीन बनाने का प्रयत्न कर रहा है। परन्तु जब तक कोई वैक्सीन न मिल जाये तब तक हमारे शरीर को ही इस वायरस से लड़ना होगा। जिसमे हमारे इम्युनिटी सिस्टम का बहुत बड़ा रोल है।

​सावधानियों रखे, और अपनी इम्यूनिटी को मजबूत बनाये रखे, क्योकि अगर आपकी इम्यूनिटी अच्छी रहेगी। तो आप कोरोना वायरस से चल रही इस लड़ाई में खुद को स्वस्थ रख पायेंगे।

ऐसे ही देश दुनिया तथा मनोरंजन जगत से जुड़ी ताजा खबरो की जानकारी के लिए हमारे साथ आईये और फालो कीजिए हमारे  फेसबुक   पेज को और जुड़े रहिये हमारे जागरूक हिंदुस्तान साइट से। हमारे ट्विटर अकाउंट को फॉलो करे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here