Nancy Pelosi (नैंसी पैलोसी कौन हैं, जिनकी यात्रा से चीन व ताइवान के बीच छिड़ सकती हैं जंग

Date:

Nancy Pelosi (नैंसी पैलोसी) अमेरिकी संसद की स्पीकर नैंसी पैलोसी की ताइवान यात्रा के बाद अमेरिका और चीन के रिश्ते खराब हो गयी है। कहा जा रहा हैं, कि चीन ताइवान के बार्डर पर युद्ध अभ्यास शुरू करके ताइवान को डराने की कोशिश कर रहा हैं। 

Nancy Pelosi कौन हैं-

नैंसी पैलोसी अमेरिकी संसद की स्पीकर नैंसी पैलोसी हैं। उनके ताइवान जाते ही चीन व ताइवान के बीच युद्ध की स्थिति आ गयी हैं। इनके आने से ताइवान व अमेरिका के बीच रिश्ते अच्छे होते हुए दिख रहे थे। 

अमेरिका की प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी के तीन अगस्त को ताइपे से रवाना होते ही चीन ने बड़ी कार्रवाई की है। यूएस स्पीकर के दौरे से बौखलाए चीन के फाइटर जेट ताइवान की सीमा में घुस गए। जानकारी के मुताबिक 27 चीनी युद्धक विमानों ने बुधवार को ताइवान के वायु रक्षा क्षेत्र में उड़ान भरी। दरअसल चीन के भारी विरोध के बीच पेलोसी ने ताइवान यात्रा की थी। अब उनके जाते ही चीन के युद्धक विमान ताइवान की सीमा में मंडराने लगे

 ताइवान की सफलता के पीछे हैं ताइवान की राष्ट्रपति साई इंग-वेन (Tsai Ing-wen), जो चीन की आँखो में चुभती हैं। 

ताइवान व चीन के बीच लड़ाई क्यो-

1949 में कम्यूनिस्ट पार्टी ने सिविल वार जीती थी। तब से दोनों हिस्से अपने आप को एक देश तो मानते हैं लेकिन इसपर विवाद है कि राष्ट्रीय नेतृत्व कौन सी सरकार करेगी। चीन ताइवान को अपना प्रांत मानता है, जबकि ताइवान खुद को आजाद देश मानता है। दोनों के बीच अनबन की शुरुआत दूसरे विश्व युद्ध के बाद से हुई। उस समय चीन के मेनलैंड में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी और कुओमितांग के बीच जंग चल रही थी।

अभी दुनिया के केवल 13 देश ही ताइवान को एक अलग संप्रभु और आजाद देश मानते हैं। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related