बिग बॉस 13 क्यों नहीं जीत पाए असीम?

2
1876
"जीत हासिल करनी हो तो काबिलियत बढाओ, किस्मत की रोटी तो कुत्तों को भी नसीब होती है!"

ऐसा ही कुछ असीम के साथ भी हुआ बिग बॉस13 में कुछ लोग बोलते है की बिगबॉस13 का रियल विनर असीम है,ऐसी कोई एक क्वालिटी हो उनमे जो उन्हें विनर बनती हो वो तो फर्स्ट वीक ही निकल गए होते अगर सिद्धार्थ शुक्ला ने उन्हें सपोर्ट न किया होता तो शायद दलजीत की जगह वो बाहर हुए होते,लड़ाई और पोक करने के अलावा उन्होंने ने किया क्या है पुरे बिगबॉस13 में हाँ एक काम किया है,

वाशरूम क्लीनिंग का क्या बस इन्हीं कारणों से लोग उन्हें विनर बना दे,उन्होंने अगर कोई टास्क भी किया हो जो उन्होंने खुद के दम पर जीता हो जब भी कोई टास्क होता था अगर उसमे सिद्धार्थ नही होते उनके साथ तो वो हर जाते थे टास्क में सिर्फ स्ट्रैन्थ ही सब कुछ नही होता कोई भी टास्क जीतने के लिए एक बेहतर प्लेन की जरूरत होती है और वो प्लेन सिर्फ वो ही बना सकता जो इंटेलीजेंट हो आज तक उन्होंने जो भी योजना बनाई एक भी काम नही किया तो वो इंटेलीजेंट भी नही है इससे पता चलता है तो क्या सिर्फ उनके लड़ाई करने पर उनको विनर बना दे या जिम करने पर जब वो लड़ाई नही करते थे तो बस जिम करते हुए ही पाए जाते थे, विनर बनने के लिए क्वालिटी भी होनी चाहिए,ये पब्लिक है ये सब जानती है तभी विनर नहीं बनाया ऐसे इंसान को जो उसके काबिल नही था,जो काबिल था आज वो विनर है ।

कुछ लोगो का कहना है जनता की पसंद असीम-

अगर ऐसा है तो फिर उस पब्लिक ने असीम को वोट क्यों नहीं दिया,ये तो वही बात हुई न जीत पाए नही तो उसमे भी गलती बिगबॉस13 और कलर्स वालो की दे रहे और सलमान सर को बोलते थे की वो सिद्धार्थ को सपोर्ट करते और असीम को गलत साबित करते सोचने वाली बात है आखिर सलमान सर या कलर्स चेंनल वालो को क्या मिल जायेगा सिद्धार्थ को सपोर्ट करके शायद वो ये भूल रहे, अगर शो वाले चाहते तो कबका असीम को निकाल दिए होते अपने शो से क्योंकि शो उनका था ना की असीम का और जो लोग ये बोल रहे उनको वोट भी करना था ये पता नही था क्या असलीफैंस कम्पटीशन में भी सिद्धार्थ ही विनर था हर जगह सिद्धार्थ सिद्धार्थ चाहे वो ट्विटर,इंस्टाग्राम और फेसबुक हर जगह सिद्धार्थ ही सिद्धार्थ छाया था और पब्लिक की पसंद असीम ये किसी जोक से कम नहीं सोचने वाली बात है,क्या वो पब्लिक किसी और प्लैनेट की थी क्योकि अर्थ पर तो सिद्धार्थ ही सिद्धार्थ था।

लड़ाई करने के अलावा किया क्या असीम ने-

असीम बिगबॉस13 में आते ही उन्होंने पारस से लडाई किया फर्स्ट डे ही जंहा सब घर को समझने में लगे थे असीम ने आते ही अपनी क्वालिटी दिखा दी पारस से लड़ाई करके फिर थोड़े दिनों बाद उन्होंने चायपत्ति पर पारस से लड़ाई कर ली बर्तन वर्तन फेकने लगे, सिद्धार्थ ने उन्हें संभाला नही तो उसी टाइम वो पारस पर हाँथ उठा कर घर से बाहर हो लिया होते,मजे की बात ये है की इन्होने खुद एक्सेप्ट किया कि इनको लड़ाई के अलावा कुछ नही आता है जब विशाल आये थे तब इन्होने कहा सिद्धार्थ से ये काफी शांत है लगता है ये लड़ाई नही करेगा तब सिद्धार्थ ने बोला क्यों फ़र्ज़ी में लडाई करना चाहता है असीम ने कहा मेरा मन है लड़ाई करने का तभी इनकी असलियत पता चल गई कि इनको लड़ाई करने के अलावा कुछ नही आता है,फिर जब उनको लगा पारस या विषाल या रशमी के रामलाल से लड़ाई करके फुटेज नहीं मिल रही तो उन्होंने सिद्धार्थ को पोक करना शुरू कर दिया और छोटी छोटी बातों पर उनसे लड़ाई करने लगे जबरदस्ती उनसे भिड़ने की कोसिस करते थे जब उनको लगता वो दिख नही रहे है तब सिद्धार्थ को पोक करना स्टार्ट कर देते थे और लड़ाई करने लगते थे क्या सिर्फ लड़ाई करना ही एक विनर की क्वालिटी होती है मुझे तो नही लगता।

सिद्धार्थ का उपयोग किआ असीम ने किया इसलिऐ असीम विजेता है-

फर्स्ट डे से ही उन्होंने सिद्धार्थ शुक्लजी का यूज़ किया जब वो घर में आये तब उन्होंने पारस से लड़ाई की फिर उन्हें लगा इससे उनको फुटेज नहीं मिलेगा तब उन्होंने सिद्धार्थ शुक्ला जी जो पहले से बहुत फेमस थे उनसे दोस्ती और उनके साथ रह कर फेमस हुए फिर जब घर में हिमांशी और शैफाली जरीवाला आयी तब उन्होंने उनको उनलोगो से पता चला की वो फेमस हो चुके है बाहर और सलमान सर ने भी उन्हें हमें बोल दिया था और उनका घमंड बढ़ गया और फिर वो सिद्धार्थ शुक्लजी से लड़ाई करना स्टार्ट कर दिया और उनको पोक करने लगे और अपनी असलियत दिखाने लगे की वो कैसे है रियल में उन्होंने फेमस होने के लिए भी सिद्धार्थ शुक्ला से दोस्ती की और फुटेज पाने के लिए उनसे लड़ाई तो क्या ऐसा इंसान विनर है पब्लिक की नजरो में जिसने दोस्ती में आस्तीन के सांप का काम किया पहले दोस्त बने फिर उसी दोस्त को डस लिया मेरी नजरो में ऐसा इंसान विनर तो दूर दोस्त बनने के भी काबिल नहीं है जिनसे फेमस होने के लिए किसी का यूज़ किया हो ।

सहानभूति लेने के लिए रोते रहते थे असीम क्या ये विनर की क्वालिटी है-

असीम पहले दिन ही जब घर में वो आये तब वो पारस को रैप सुना रहे थे उसमे भी वो सहानभूति ले लेने की कोसिस करते थे जब भी किसी से लड़ाई होती थी और वो समझ जाते अब वो कुछ बोल नहीं सकते तो कैमरा के सामने आकर वो रोना स्टार्ट कर देते थे पहले वो खुद गली देते थे फिर जब सामने वाला उनको कुछ कहता तो रोना स्टार्ट हो जाता उनका कि मेरे बाप पर गया मेरे फॅमिली पर गया जब की सबसे पहले वही पारस के बाप पर गए थे वो किसी को कुछ भी बोल दे चलता था जब उनको कोई कुछ कहे तो रोना स्टार्ट हो जाता था उनका जब आप किसी की बात सहन नहीं कर सकते तो फिर क्यों बोलना उनको सामने वाले से लड़ाई भी करना था गली भी देना था धक्का भी मरना था लेकिन उनको कोई कुछ कह दे तो उनका रोना शुरु हो जाता था क्या ऐसा होता है विनर जो बात बात पर सिम्पथी ले कैमरे के सामने ये तो लूज़र की क्वालिटी होती है।

अपनी बातों से पलट जाना क्या एक विनर की क्वालिटी है-

असीम रियाज़ को हमेशा देखा गया था की वो हमेशा अपनी बातों से पलट जाते थे जब भी वीकेंड का वार होता था सलमान सर कुछ उनसे कहते थे तो वो बोल देते थे मैंने तो ऐसा कुछ कहा ही नही जो अपनी बातों पर कायम नहीं रह सकता वो क्या विनर बनने के काबिल है विनर वही होता जो कभी झूठ न बोले न की वो जो पलट जाये अपनी बातों से हर समय अच्छा बनने के लिए। 

जिस शो ने उन्हें नाम फेम दिया उसी की इज़्ज़त न करना-

असीम रियाज़ को हमेशा देखा गया है की वो हमेसा बिगबॉस13 शो की इंसल्ट करते थे वहा के क्रूरूमेकर हो या वहां के कैमरा मैं एक बार तो हद्द हो क्रॉस कर दी थी ये बोलकर की कैमरा मैन को चाय साये पिलाओ शायद वो ये भूल गये थे की जिस कैमरा मैन को वो ऐसा बोल थे उनको टाइम न लगेगा इनको नेगेटिव दिखने में और पब्लिक के नज़रों में गिराने में वो भूल गये थे की आज वो कुछ भी है बिगबॉस13 की वजह से ही क्या जो इंसान शो की इज़्ज़त न करता था वो जीतने के काबिल है ।

अन्य प्रतियोगी को पोक करना-

असीम रियाज़ हमेसा अन्य प्रतियोगियों को पोक करते थे ताकि वो उनसे लड़ाई करे और असीम को फुटेज मिले उन्होंने ये न सिर्फ सिद्धार्थ शुक्ला के साथ पारस के साथ भी किया था एक बार तो पारस इतना गुस्सा हो गए की उन्होंने इनकी औकात तक उन्हें दिखा दी और सिद्धार्थ शुक्ला की इस लेवल तक पो क किया की वो उनको मार कर बहार जाना और शो को छोड़ने को रेडी हो गए थे उन्होंने ने कहा की मै इसको अभी यहीं मरूंगा और शो छोड़ कर जाना चाहूंगा क्या किसी को इस लेवल तक आप प्रेसन कर दो कि वो आपको मरने पर उतारू हो जाए ये विनर की क्वालिटी होती है ।

पहले दोस्ती करना फिर धोखा देना-

असीम रियाज़ ने कुछ ऐसा ही किया बिगबॉस13 में पहले उन्होंने सिद्धार्थ से दोस्ती की और उन्हें धोखा दिया सिर्फ फुटेज पाने के लिए इसी तरह शैफाली जरीवाला के साथ दोस्ती की उन्होंने हिमांशी के करीब जाने के लिए सना का भी उन्होंने इस्तेमाल किया सिद्धार्थ को नीचा दिखाने और टास्क में जीतने के लिए अगर उन्हें आस्तीन का साप कहे तो तो गलत नही होगा क्या ऐसा इंसान विनर हो सकता है जिसने सिर्फ लड़ाई और पोक किया हो।


Winner हमेशा समस्या के समाधान का हिस्सा होता है वहीं Loser
समस्या का ही हिस्सा बन जाता है।

2 COMMENTS

  1. Very well said Asim ne sid ka use kiya fir ladayi me sid ki wajha se footage leta raha …for rashmi ke sath reh kar footage liya ….kisi na kisi ke sahare hi raha chutiya asim

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here